How to use CoviSelf Kit
What is CoviSelf kit and how to use it?

भारत का पहला खुद से coronavirus संक्रमण की जांच के लिए बना स्वदेश निर्मित CoviSelf kit से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारियां, जो आपको आपको तथा आपके प्रियजनों को लाभान्वित करेगा|

जैसे की आपको पता है Coronavirus  की इस दूसरी लहर ने पुरे देश को बुरी तरह अपने जकड में ले रखा है | देश के सारे हॉस्पिटल मरीज़ो से भरे पड़े है| संक्रमण के मामले इतने अभूतपूर्व रफ़्तार से बढे है की इस महामारी की सुनामी को काबू करते हुए देश का चिकित्सीय ढांचा बुरी तरह चरमरा गया है| आवश्यक चिकित्सीय सामग्रियों की कमी तो जगजाहिर है ही साथ ही साथ medical staffs  के ऊपर काम का बोझ भी बेहद बढ़ गया है |

इस तेज़ी से बढ़ते संक्रमण की रफ़्तार का असर जांच लैबोरेट्रीज पर भी पड़ा है| जहां पहले RT-PCR टेस्ट का रिजल्ट मात्रा 24 घंटे में आ जाता था आज उसी टेस्ट के रिजल्ट भारी मात्रा में सैंपल testing  के वजह से 4-5 दिनों का इंतज़ार करना पड़ रहा है |

यधपि, कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए टेस्टिंग ही एक मात्र उपाय है इसलिए जांच की निरंतरता और उसकी जल्द परिणाम बेहद जरुरी है|

इसी टेस्टिंग की प्रकिर्या को बेहद आसान और तेज़ बनाने के लिए एक नयी testing किट मार्किट में लांच हुई है जिसका नाम है “CoviSelf  Kit” 

इस आर्टिकल में हम इसी CoviSelf  kit से सम्बंधित कुछ मुख्य प्रश्न जैसे ये क्या है?, इसके इस्तेमाल करने की विधि एवं इसकी कीमत पर एक विस्तृत जानकारी साझा करेंगे|

आइये चलते है मुख्य भाग की ओर,

What is CoviSelf Kit?

CoviSelf  Kit को पुणे स्थित Mylab Discovery Solutions  ने तैयार किया है जो की भारत का पहला खुद से इस्तेमाल करने वाला Rapid Antigen test किट है|  इसे आप घर बैठे ही इस्तेमाल कर सकते है वो भी सिर्फ 2 मिनट में जाँच और मात्र 15 मिनट में रिजल्ट भी पा सकते है |

CoviSelf  Kit किट को पिछले 20 मई को ही इंडियन कौंसिल ऑफ़ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने इस्तेमाल की मंज़ूरी दे दी है | ये सेल्फ टेस्टिंग किट covid-19 की पहचान और तत्पश्चात उसके इलाज या आइसोलेशन में एक बड़ी खोज है जो की जाँच केन्द्रो पर लोगो की भीड़ एवं स्वास्थ कर्मियों पर काम का दबाव को कम करेगा|

इस तरह के सेल्फ टेस्टिंग किट पश्चिमी देशो में पहले से ही इस्तेमाल होते आ रहे है जिसका सकारात्मक प्रभाव वहाँ देखने को मिल रहा है | अमेरिका में ऐसी टेस्टिंग किट नवंबर 2020 से ही इस्तेमाल हो रही है| ऐसे ही समान self covid testing  किट, UK  तथा यूरोपियन देशो में प्रचलित है |

What is the Price of the CoviSelf Kit in India? (India में CoviSelf Kit की कीमत क्या है?)

Mylab  discovery  solutions के डायरेक्टर सुजीत जैन के अनुसार coviSelf  kit कीमत मात्र 250 रुपये रखी गयी है जबकि RT-PCR टेस्ट में करीब 400 से 1500 लगते है और रैपिड एंटीजन टेस्टिंग के लेबोरेटरी जांच में 300 से 900 का खर्च आता है |

कंपनी के अनुसार ये सेल्फ टेस्टिंग किट देश के 7 लाख से ज्यादा ऑनलाइन तथा ऑफलाइन pharmacies में 27 मई 2021 के बाद उपलब्ध हो जाएगी |

Who can use CoviSelf kit? (CoviSelf kit का इस्तेमाल कौनसे लोग कर सकते है?)

ICMR  के मुताबिक ऐसे व्यक्ति जिनको कोरोना के लक्षण हो या फिर किसी ऐसे इंसान के संपर्क में आये हो, वो ये टेस्ट अपने घर पर ही कर सकते है| अगर इंसान के रिजल्ट पॉजिटिव आता है तो उसे covid  positive  ही माना जायेगा और उसे RT-PCR की जरुरत नहीं होगी | साथ ही साथ उस संक्रमित इंसान को सरकार द्वारा covid -19 के संक्रमण रोकने सम्बंधित जो गाइड लाइन जारी की गयी है उसका पालन करना होगा|

हालाँकि, अगर किसी शख्स को कोरोना के लक्षण होने के बावजूद भी रिपोर्ट नेगेटिव आरही है तो उसे RT-PCR टेस्ट बाहर किसी लेबोरेटरी से करवाने की सलाह दी गयी है |

How to Use CoviSelf Kit? (CoviSelf kIt का इस्तेमाल कैसे करे?)

CoviSelf  kit  का packing  में आपको मिलेगा एक पहले से भरा हुआ extraction tube, sterile  nasal swab, एक testing  card एवं biohazard bag.

जहाँ तक इसके इस्तेमाल की विधि की बात की जाये तो आपको निचे दिए गए निर्देशों अनुसरण करके इसका सही इस्तेमाल कर सकते है |

  • सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में CoviSelf  App  डाउनलोड करना होगा एवं उसमे निर्देशित डिटेल्स  भरने होंगे जिसका डाटा  सर्वर ICMR  के पोर्टल से जुड़ा है जिससे सरकार को आपके संक्रमण की स्तिथि का पता रहे|
  • उसके बाद आप कविसल्फ टेस्टिंग किट को किसी साफ सुथरे स्थान पर रखिये तथा अपने हाथो को सनितीज़े  करके इसके swab को अपने नाक में 2-4 सेंटीमीटर अंदर अपने नेसल ट्रैक तक ले जाइये उसे थोड़ी देर रगडिये ताकि सैंपल उसमे पूरी तरह से लग सके |
  • उसके बाद सवाब को extraction tube  में मौजूद liquid  के साथ ठीक से मिलाइये ध्यान रहे की extraction tube अच्छे से बंद हो| इसके तुरंत बाद मिक्स की हुई सैंपल की 2 बूँद को टेस्टिंग कार्ड में निर्देशित स्थान पर गिराए|
  • 15 मिनट के बाद आपको इसका रिजल्ट मिल जायेगा जिसमे रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर टेस्टिंग कार्ड पर अंकित “T” और “C” के सामने 2 लाइन दिखाई देंगी जिसमे “T” का मतलब हुआ टेस्टिंग लाइन और “C” का मतलब हुआ क्वालिटी कण्ट्रोल लाइन|
  • Report  negative  होने पर सिर्फ “C” के ऊपर एक लाइन दिखेगी |
  • अगर सैंपल के रिजल्ट में 20 मिनट से ज्यादा वक़्त लगे या “C” के ऊपर कोई लाइन न आये तो टेस्ट को Invalid ( अमान्य) माना जायेगा|
  • आखिर में आपको phone  app  के द्वारा टेस्टिंग किट के रिजल्ट के साथ एक फोटो लेनी है और अपलोड कर देना है|
  • टेस्टिंग के बाद Tube  और swab  को biohazard  bag  में सील करके biomedical  waste  में dispose  कर दे |
  • अंततः अगर रिपोर्ट पॉजिटिव हो तो कोरोना के guideline  का पालन करते हुए खुद को isolate कर ले तथा संपर्क में आये हुए लोगो को भी जांच की सलाह दे |

अन्य Coronavirus  सम्बंधित Article  What are Black fungus and white fungus Diseases? ( Black Fungus और White Fungus बीमारी क्या है ?)